आठवें महीने में अनुष्‍का शर्मा की तरह शीर्षासन करना सही है या गलत? – is it safe to do shirshasana during pregnancy in hindi

​अनुष्‍का का योगा रूटीन

अनुष्‍का ने खुलासा किया कि उन्‍हें योगा करने में मजा आता है और ये उनकी जिंदगी का अहम हिस्‍सा बन गया है। प्रेग्‍नेंसी में अनुष्‍का योगा ट्रेनर की गाइडेंस में योगासन करती हैं और इसमें उनके पति विराट कोहली भी मदद कर रहे हैं।

आइए अब जान लेते हैं कि अनुष्‍का शर्मा की तरह प्रेग्‍नेंसी में शीर्षासन करना कितना सही है?

यह भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी में काम आएंगे योग के ये 8 आसन

​प्रेग्‍नेंसी में शीर्षासन करना सुरक्षित है

प्रेग्‍नेंसी में आप शीर्षासन कर सकती हैं या नहीं, ये पूरी तरह से आपकी सेहत, फिटनेस लेवल, प्रेग्‍नेंसी के चरण और गर्भ में पल रहे शिशु की स्‍वास्‍थ्‍य स्थिति पर निर्भर करता है।

कोई भी एक्‍सरसाइज और योगासन करने से पहले गर्भवती महिला को डॉक्‍टर या हेल्थ एक्‍सपर्ट से बात करनी चाहिए। अगर आप उनकी सलाह से कोई योगासन कर भी रही हैं तो एक्‍सपर्ट की गाइडेंस में ही करें।

अब इस बात से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि अनुष्‍का शर्मा कैसे शीर्षासन कर रही हैं। उनकी मदद के लिए योगा एक्‍सपर्ट के अलावा उनके पति विराट भी कोहली हैं। एक्ट्रेस योगा एक्‍सपर्ट से बात करने के बाद ही इस आसन को कर रही हैं।

​गर्भावस्‍था में शीर्षासन करने के फायदे

शीर्षासन करने का प्रमुख कारण होता है मस्तिष्‍क तक खून की सप्‍लाई को बढ़ाना और दिमाग की कोशिकाओं को पोषण देना। यह दिमाग को शांत करता है और स्‍ट्रेस एवं एंग्‍जायटी से निजात दिलाता है। माइग्रेन और सिरदर्द को कम करने के लिए भी शीर्षासन किया जाता है।

यह आसन पिट्यूटरी ग्रंथि को बूस्‍ट कर डायबिटीज को कंट्रोल करने में भी मदद करता है। इस तरह गर्भवती महिलाएं जेस्‍टेशनल डायबिटीज से बच सकती हैं। शीर्षासन से कंधे और बांह मजबूत होते हैं। इससे आंखों में ब्‍लड सप्‍लाई तेज होती है जिससे आंखों की रोशनी में सुधार आता है।

यह आसन बालों को मजबूत करके बाल झड़ने से रोकता है। इससे पाचन भी ठीक तरह से होता है।

यह भी पढ़ें : प्रेगनेंट महिलाओं को इस महीने से बंद कर देनी चाहिए एक्‍सरसाइज

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *