पेट में बच्चा कैसे खराब होता है: शाही घराने की बहू मेगन मार्कल ने बताया मिसकैरेज का दर्द, जानें इस तकलीफ से निकलने के तरीके – meghan markle experience of miscarriage in hindi

​मिसकैरेज का दर्द बताया

अपने मिसकैरेज को लेकर मेगन ने कहा कि अपना बच्‍चा खोने का मतलब है इस दुनिया का सबसे बड़ा और असहनीय दुख। इस दर्द से कई महिलाएं गुजरती हैं, लेकिन इसके ऊपर बहुत कम ही औरतें बात कर पाती हैं।

मगन ने बताया कि वो जिस कमरे में थीं वहां लगभग 100 महिलाएं होंगीं और उनमें से 10 से 20 औरतों का मिसकैरेज हो गया था।

ये तो था शाही घराने की बहू मेगन मार्कल का एक्‍सीपीरियंस, अब जान लेते हैं कि मिसकैरेज होने पर महिलाएं किस तरह इस दर्द से बाहर निकल सकती हैं।

यह भी पढ़ें : गर्भपात के कारण, इससे कैसे बचें और घरेलू उपचार

​अपनी भावनाओं को व्‍यक्‍त करें

मिसकैरेज में आप अपनी सबसे प्‍यारी चीज खो देती हैं जिसके बाद इमोशनली बहुत कुछ सहना पड़ता है। इसमें आपको गुस्‍सा भी आ सकता है। आपके मन में जो भी भावना या बात आ रही है, उसे अपने पार्टनर से शेयर करें।

इस तरह महसूस करना नॉर्मल बात है और दुख से बाहर निकलने के लिए आपको अपने करीबियों से अपनी तकलीफ को शेयर करना होगा। कहते हैं कि दुख बांटने से तकलीफ कम हो जाती है।

​अपनों की मदद लें

मिसकैरेज होने के बाद कुछ दिन तक अपनी नॉर्मल लाइफ से दूर हो सकती हैं। ऐसे में घर के कामों या परिवार की देखभाल के लिए आप अपने पार्टनर या दोस्‍त या किसी सदस्‍य की मदद ले सकती हैं। अपनों की मदद लेने में कोई बुराई या शर्म नहीं है।

​मेडिटेशन और योग

मिसकैरेज के बाद आप स्‍ट्रेस में आ सकती हैं और आपके मन में नेगेटिव भावनाएं घर कर सकती हैं। इसे दूर करने के लिए आप मेडिटेशन और योग की मदद ले सकती हैं।

योग करने के बाद शरीर और दिमाग में पॉजिटिविटी आती है और अच्‍छा महसूस करवाने वाले हार्मोंस भी रिलीज होते हैं। आप चाहें तो किसी थेरेपिस्‍ट की मदद भी ले सकती हैं।

मेडिटेशन मानसिक रूप से शांत करता है और धीरे-धीरे आपकी तकलीफ को भी कम करने में मदद करता है। मिसकैरेज के दर्द से निकलने के लिए योग और मेडिटेशन नैचुरल थेरेपी का काम कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : ये टॉप बॉलीवुड एक्‍ट्रेसेस झेल चुकी हैं मिसकैरेज का दर्द और चुभन

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *