can baby sleep with socks on: सर्दी में शिशु को जुराब पहनाकर सुलाना पहुंचा सकता है फायदे की जगह नुकसान – can baby sleep with socks on in hindi

जिस तरह हर इंसान अलग होता है, ठीक उसी तरह हर बच्चा अलग होता है। एक बच्चा किसी एक चीज में सहज हो सकता है जबकि दूसरा बच्चा उसी चीज में असहज महसूस कर सकता है। जैसा कि आजकल ज्यादातर पैरेंट्स अपने बच्चे को जुराब में सुलाते हैं।
कुछ बच्चों के लिए यह सामान्य है। जबकि कुछ बच्चे जुराब में सोना पसंद नहीं करते हैं। सर्दी के मौसम में हालांकि बच्चों को बहुत ज्यादा कपड़े पहनाए जाते हैं ताकि उन्हें ठंड न लगे। इसके बावजूद विशेषज्ञों का तर्क है कि मौसम चाहे कितना ही सर्द क्यों न हो, बच्चों को जुराब पहनाकर सुलाना फायदे की जगह नुकसान पहुंचा सकती है।

​कितनी ठंड में शिशु को जुराब पहनाकर सुलाएं

आपको अपने बच्चे की कंफर्ट का ख्याल रखना चाहिए। यदि उसे ज्यादा गर्मी लगती है, ठंड के मौसम में वह ज्यादा कपड़े नहीं पहनना पसंद करता है, तो बेहतर है कि उसे रात को सोते समय जुराब न दें। इसके विपरीत यदि आपका बच्चा हल्की ठंड भी नहीं सह पाता है, तो उसे जुराब पहनाकर सुला सकती हैं।

बड़े बच्चे हालांकि यह कहने और समझाने में सक्षम होते हैं कि उन्हें ठंड लगी या गर्मी। शिशु के लिए अपनी स्थिति को समझाना मुश्किल होता है। मगर आपको उसकी बाॅडी लैंग्वेज से समझना चाहिए कि वह असहज महसूस कर रहा है या नहीं।

बतौर मां आप अपने शिशु के लिए कमरे के टेम्प्रेचर को चेक करें। यदि आपको ठंड लग रही है, तो यकीनन आपके बच्चे को उससे ज्यादा ठंड लग रही होगी। इस तरह सूझबूझ से आप शिशु के लिए कमरे में सही तापमान सेट कर पाएंगी।

यह भी पढ़ें : जब डिलीवरी के समय बच्चे को नहीं मिल पाता है ऑक्सीजन, जा सकती है जान

​रात को शिशु के पैर ठंडे रहते हैं तो क्या करें

यदि आपके शिशु के पैर रात को ठंडे रहते हैं तो परेशान न हों। यह चिंता का विषय नहीं है। यह बिल्कुल वैसा ही है, जैसे कुछ बड़े बच्चों के पैर सर्दी के मौसम में ठंडे रहते हैं। उन्हें गर्म होने में अन्य लोगों से ज्यादा समय लगता है।

आपको ध्यान देना है कि ठंड के कारण बच्चे के पैर अकड़ रहे हैं या कोई अन्य समस्या हो रही है, तो डाॅक्टर को संपर्क करना बेहतर रहेगा।

वैसे आप अपने शिशु को पजामे, कंबल और जुराब पहनाकर रात को सुला सकती हैं। ध्यान रखें कि शिशु की जुराब बहुत ज्यादा टाइट न हो और जुराब का फैब्रिक नर्म हो, जिससे बच्चे को असहजता न हो।

यह भी पढ़ें : सर्दी के मौसम में बच्चे को जरूर खिलाएं ये फल, कोरोना जैसे वायरस छू भी नहीं पाएंगे

​सोने के दौरान जुराब पहनने के संभावित खतरे

रात को सोने के दौरान आपका शिशु जुराबों में सहज रहता है, इसका मतलब यह नहीं है कि आप उसे पूरा साल जुराब में ही सुलाएं।

तापमान गर्म होने पर जुराब पहनने से बच्चे के पैरों से पसीना आ सकता है, उसे गर्मी लग सकता है। पैरों से बेहता पसीना बच्चे के लिए दूसरी समस्याएं पैदा कर सकता है।

यदि बच्चे को जुराब पहनकर सोने के कारण रात को पसीना आ रहा है, गर्मी लग रहा है या फिर वह परेशान हो रहा है तो तुरंत उसकी जुराब उतार दें।

कुछ देर के लिए उसके ऊपर से चादर भी हटा दें ताकि वह सामान्य तापमान के साथ एड्जेस्ट कर सके।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *