dal ka pani for 6 month baby in hindi: आयरन के लिए बच्चे को इस तरह बनाकर पिलाएं दाल का पानी, पोषण के मामले में आप भी रहेंगी संतुष्‍ट – moong dal pani recipe for kids in hindi

​दाल का पानी बनाने की रेसिपी

मूंग की दाल का पानी बनाने के लिए आपको चाहिए आधी कटोरी दाल और एक चुटकी हल्दी। मूंग के दाल का पानी बनाने की विधि इस प्रकार है :

  • मूंग के दाल को दो से तीन बार अच्छी तरह धो लें।
  • 15 मिनट के लिए दाल को भिगोकर रखें।
  • प्रेशर कूकर में भीगी हुई दाल और आवश्यकतानुसार पानी डालें।
  • ऊपर से एक चुटकी हल्दी डालें।
  • चार से पांच सीटी लगने पर गैस बंद कर दें।
  • भाप निकलने पर कूकर खोलें।
  • गली हुई दाल को अच्छी तरह से मैश कर लें।

​बच्चे को कैसे खिलाएं

7 से 8 माह के बच्चे को मैश की हुई दाल खिलाई जा सकती है। यदि बच्चा बहुत छोटा है यानी छह माह का है और उसे अभी ठोस आहार देना शुरू भर किया है, तो मैश की हुई दाल को और पतला करने की जरूरत है।

इसके लिए छलनी की मदद से छान लें। छानने के लिए चम्मच की मदद लें। चम्मच से दबा-दबा कर छलनी से दाल को छानें।

इसके लिए छलनी के ऊपर से उबला हुआ पानी डाल सकती हैं। अंत में आपको दाल का काफी गाढ़ा पानी मिलेगा। यही पानी अपने छह माह के बच्चे को पिलाएं।

अगर इस तरह छलनी से छानना मुश्किल लगे तो ब्लेंड भी कर सकती हैं। जरूरत होने पर उसमें भी ऊपर से उबला हुआ पानी डालें। ठंडा करके बच्चे को खिलाएं।

यह भी पढ़ें : बच्‍चों या शिशु के लिए घर पर बनाएं ये 5 तरह की हेल्‍दी खिचड़ी

​बच्चों के लिए मूंग दाल के पानी के फायदे

दाल में काफी ज्यादा मात्रा में फाइबर होता है, जो बच्चे के लिए फायदेमंद है। इसके अलावा दाल का पानी पीने के बच्‍चे को कई लाभ होते हैं, जैसे कि :

  • ज्यादातर छोटे बच्चे कब्ज की शिकायत करते हैं। नियमित दाल का पानी पिलाने से कब्ज की शिकायत कम होती है।
  • दाल के पानी में मौजूद फाइबर कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करता है।
  • दाल का पानी पीने से बच्चे का दिल मजबूत होता है।
  • दाल के पानी में फोलेट और मैग्नीशियम पाया जाता है।
  • यह तत्व बच्चे के विकास के लिए उपयोगी है।

​इन बातों का रखें ध्‍यान

  • दाल पाचन क्रिया को बेहतर करता है। छोटे बच्चे इसे बहुत आसानी से खाकर पचा सकते हैं।
  • छोटे बच्चे की दाल में नमक न डालें। उन्हें इसकी आवश्यकता नहीं होती है और छोटे बच्चे को आहार के ऊपर से नाम नहीं दिया जाना चाहिए।
  • दाल के पानी में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन होता है। प्रोटीन भी बच्चे के विकास के लिए आवश्यक तत्व है।
  • दाल का पानी पीने से बच्चे हमेशा ऊर्जावान बने रहते हैं। उनमें थकान कम होती है और सक्रिय रहने से उनका स्वास्थ्य बेहतर रहता है।

यह भी पढ़ें : 4 महीने के बच्चे के लिए बनाएं मूंग दाल की खिचड़ी, कब्ज और पेट की परेशानियां छू भी नहीं पाएंगी

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *