dos and don’ts during ivf stimulation: आईवीएफ ट्रीटमेंट लेने से पहले कपल्‍स क्‍या करें और क्‍या ना करें – do’s and dont’s for couples before ivf treatment in hindi

​सबसे पहले प्रक्रिया को समझें

आईवीफए ट्रीटमेंट शुरू करवाने से पहले आप इसकी प्रक्रिया को समझ लें वरना प्रोसेस के दौरान मन में बैठे सवालों से आपका मन बेचैन हो सकता है या आपको डर लग सकता है। आईवीएफ की एक साइकिल पूरी होने में दो हफ्ते लगते हैं।

इस प्रोसेस के लिए आपके शरीर में हार्मोंस की मात्रा ठीक होनी चाहिए। दुखी होने पर, एंग्‍जायटी होने और चिंता में रहने पर आईवीफए ट्रीटमेंट लेने का फैसला न लें।

यह भी पढ़ें : बच्‍चा पैदा करने के लिए सिर्फ इन लोगों को लेनी चाहिए आईवीएफ की मदद

​निर्देशों का पालन करें

आईवीएफ ट्रीटमेंट लेने के दौरान खानपान, एक्‍सरसाइज, नींद और दवाओं को लेकर डॉक्‍टर द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें। आईवीएफ ट्रीटमेंट के लिए जरूरी सभी दवाओं का समय पर सेवन करना जरूरी है।

यह ट्रीटमेंट महंगी होती है इसलिए फाइनेंशियली तौर पर इसके लिए तैयार रहें। आप चाहें तो इंश्‍योरेंस पॉलिसी भी ले सकते हैं।

​स्‍ट्रेस से बिलकुल दूर रहें

नैचुरली कंसीव न कर पाने पर तनाव होना स्‍वाभाविक है। मां न बन पाने पर महिलाओं को स्‍ट्रेस घेर लेता है जिसका असर उनकी सेहत के साथ-साथ फर्टिलिटी पर भी पड़ता है।

आईवीएफ लेने से पहले और इसके दौरान, हर तरह के तनाव से दूर रहने की कोशिश करें। ऐसा सोचें कि खुश रहकर आप ट्रीटमेंट के सफल होने के चांसेस को बढ़ा सकती हैं और शिशु को भी स्‍वस्‍थ रख सकती हैं।

तनाव से दूर रहने के लिए मेडिटेशन करें, गाने सुनें और अपनी पसंद का काम करें।

यह भी पढ़ें : आईवीएफ ट्रीटमेंट के लिए ये मौसम होता है सबसे बेहतर

​क्या न करें

आईवीएफ ट्रीटमेंट लेने के दौरान, इससे पहले और बाद में निम्‍न काम न करें :

  • ट्रीटमेंट को सफल बनाने के लिए धूम्रपान, शराब और ड्रग्‍स आदि न लें। इस तरह आप आईवीएफ ट्रीटमेंट के सक्‍सेस रेट को बढ़ा सकती हैं।
  • महिलाओं को प्रेग्‍नेंसी में या ट्रीटमेंट के दौरान अपनी इच्‍छाओं को नहीं मारना है। फिट रहें, संतुलित आहार लें और जरूरी विटामिन लेना न भूलें। इसके अलावा डॉक्‍टर की सलाह को हल्‍के में न लें। डॉक्‍टर की मदद और सलाह के बिना आईवीएफ ट्रीटमेंट को सफल नहीं बनाया जा सकता है इसलिए इस पर ध्‍यान दें।

​सही आईवीएफ सेंटर चुनें

आईवीएफ ट्रीटमेंट लेने में सबसे ज्‍यादा जरूरी है कि आप एक सही आईवीएफ सेंटर का चुनाव करें। किसी भी फर्टिलिटी सेंटर में जाने से पहले उसके बारे में अच्‍छे से पता कर लें।

जान लें कि उस सेंटर में क्‍या सुविधाएं मिलती हैं और वहां पर ट्रीटमेट का सक्‍सेस रेट क्‍या है। इसके अलावा सेंटर का स्‍टाफ भी अच्‍छा होना चाहिए ताकि आपको ट्रीटमेंट के दौरान कोई दिक्‍कत न हो।

यह भी पढ़ें : आईवीएफ ट्रीटमेंट करवाने का फैसला लेने से पहले इन बातों का रखें ध्‍यान

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *