vajan kam karne ke upay: डिलीवरी के बाद नैचुरली और तेजी से वजन घटाने के आसान तरीके – natural ways to reduce weight after delivery in hindi

प्रेगनेंसी में अक्‍सर महिलाओं का वजन बढ़ जाता है जिसे लेकर वो चिंता करने लगती हैं। डिलीवरी के बाद महिलाओं को यही चिंता सताती है कि अब बढ़े हुए वजन को कम कैसे किया जाए। कुछ जिम जाकर पतला होने की सोचती हैं तो कुछ डायटीशियन से अपने लिए स्‍पेशल डायट बनवाकर उसे फॉलो करने की कोशिश करती हैं लेकिन आपको बता दें कि आप घर पर रहते हुए ही कुछ आसान तरीकों से नैचुरली ही अपने प्रेगनेंसी वेट को घटा सकती हैं।

तो चलिए जानते हैं गर्भावस्‍था के बाद बढ़े हुए वजन को कम करने के तरीकों के बारे में।

डायट में क्‍या लें
आपकी थाली में जितना भी खाना है, उसे पूरा खाएं और थोड़ी-थोड़ी मात्रा में करके खाएं। आप दिन में पांच से छह बार कम-कम मात्रा में खाना खा सकती हैं। ताजा फल और सब्जियों का ही सेवन करें क्योंकि ये आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे रहते हैं। साबुत अनाज वाली ब्रेड, ब्राउन राइस को अपने आहार में शामिल करें। ज्यादा शुगर वाले पेय पदार्थों से दूरी बनाएं और प्रोटीन युक्त चीजें जैसे कि मीट, चिकन, अंडे, योगर्ट और दूध को अपने खाने में शामिल करें।

क्रैश डाइट अवॉइड करें
महिलाओं को प्रसव के दौरान जो पीड़ा होती है उस दर्द और थकावट से उभरने में कुछ समय लगता है। यह थकावट बच्‍चे के 2 या 3 महीने के होने तक रहती है। इस समय महिलाओं को अपनी सेहत का विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए और अपने वजन और कैलोरी की मात्रा पर नजर रखनी चाहिए।
स्तनपान कराने वाली महिलाएं अगर क्रैश डाइट शुरू कर दें तो इसका बुरा असर ब्रेस्‍ट मिल्‍क पर पड़ता है जिससे बच्‍चे को पर्याप्‍त दूध नहीं मिल पाता है और आप तो जानती ही हैं कि बच्‍चे के लिए पोषण का एक मात्रा तरीका ब्रेस्‍ट मिल्‍क ही है।

डिलीवरी के बाद धीरे-धीरे काम करना शुरू करें
प्रसव पीड़ा के बाद शरीर में बहुत कमजोरी आ जाती है इसलिए अपने पुराने रूटीन में आने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए। यदि आपकी नॉर्मल डिलीवरी हुई है तो आप 20 दिनों के बाद थोड़े-बहुत काम करने शुरू कर सकती हैं लेकिन सिजेरियन डिलीवरी की स्थिति में पूरी तरह से रिकवर होने दें।

पानी पीना है जरूरी
शरीर के लिए पानी बहुत आवश्यक होता है। त्वचा की देखभाल, वजन कम करने और बच्चे के सही विकास के लिए ज्यादा पानी पीना बहुत अच्छा माना जाता है। जो महिलाएं स्तनपान कराती हैं, उन्हें रोज कम से कम 3 लीटर पानी अवश्य पीना चाहिए क्योंकि स्तन में जो दूध बनता है वो 50% प्रतिशत पानी होता है। यदि आप अपने शरीर को डिलीवरी से पहले की तरह करना चाहती हैं तो अपनी सेहत के साथ किसी भी तरीके का समझौता न करें और सेहत का ख्याल रखें। आप पानी के साथ-साथ नारियल पानी और नींबू पानी से भी शरीर को हाइड्रेट कर सकती हैं।

स्तनपान
कहते हैं कि स्‍तनपान मां और बच्‍चे दोनों की सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इससे महिलाओं को वजन कम करने में भी मदद मिलती है क्योंकि इससे रोजाना 850 कैलोरी घटती है लेकिन स्तनपान कभी-कभी वजन बढ़ने की भी वजह बन जाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि स्तनपान कराने के बाद भूख बहुत लगती है और आप ज्यादा खाना खाती हैं। अगर आप अपने आहार में पौष्टिक चीजों को शामिल कर के ओवरईटिंग से दूर रहें तो स्तनपान से वजन को कम करने में बहुत मदद मिल सकती है।

प्रेग्नेंसी के बाद बढ़े वजन को आसानी से कम करेंगे ये योगासन

भरपूर नींद लें
स्‍वस्‍थ रहने के लिए पूरी नींद लेना बहुत आवश्यक होता है। एक स्‍टडी के अनुसार रात में पांच घंटे नींद लेने वाली महिलाओं की तुलना में सात घंटे की नींद लेने वाली महिलाओं का प्रेगनेंसी के बाद वजन जल्‍दी घटा। पर्याप्‍त नींद लेने के बाद आप ज्‍यादा एक्टिव और रिफ्रेश महसूस करती हैं और वेट लॉस पर ध्‍यान दे पाती हैं इसलिए बेहतर होगा कि आप डिलीवरी के बाद भी भरपूर नींद लेने की कोशिश करें।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *