choose milk option if you have allergy to milk soya milk coconut milk cow milk toned milk skimmed milk | गाय के दूध से एलर्जी है तो ये 4 तरह के दूध डाइट में शामिल कर सकते हैं, ये दांत और हडि्डयों को मजबूत बनाते हैं और कोरोनाकाल में इम्युनिटी भी बढ़ाएंगे

  • Hindi News
  • Happylife
  • Choose Milk Option If You Have Allergy To Milk Soya Milk Coconut Milk Cow Milk Toned Milk Skimmed Milk

एक महीने पहले

  • कॉपी लिंक
  • गाय के शुद्ध दूध में 88 फीसदी पानी और प्रोटीन, गुड फैट व विटामिन-डी अधिक मात्रा में पाया जाता है, दूसरे दूध के मुकाबले इसमें कैल्शियम अधिक पाया जाता है
  • जिन्हें वजन नहीं घटाना है केवल फिट रहना है, वे डबल टोंड दूध पी सकते हैं, वहीं कोकोनट मिल्क लो-कोलेस्ट्रॉल होने के कारण हृदय रोगों से बचाता है

दूध को कंप्लीट फूड कहते हैं। इसमें कैल्शियम अधिक पाए जाने के कारण यह हड्डियों को मजबूत बनाता है। मार्केट में दूध की कई वैरायटी (फुल क्रीम, टोंड, डबल टोंड और स्किम्ड दूध) होने के कारण लोग कंफ्यूज हो जाते हैं कि कौन सा दूध उनके लिए बेहतर है।

एक बड़ा सवाल है कि अगर गाय या भैंंस के दूध से एलर्जी हो तो डाइट में इसका कौन सा विकल्प शामिल करें। एक गिलास दूध रोजाना लेना जरूरी है क्योंकि यह हडि्डयों और दांतों को मजबूत रखने के साथ कोरोनाकाल में आपकी इम्युनिटी भी बढ़ाएगा। डाइटीशयन सुरभी पारीक से जानते हैं कि दूध की वैरायटी और उनका कब और क्यों इस्तेमाल किया जाए…

5 प्वाइंट्स : जरूरत के मुताबिक कैसे चुनें दूध

गाय का दूध : दूसरे दूध के मुकाबले इसमें कैल्शियम अधिक
गाय के शुद्ध दूध में 88 फीसदी पानी और प्रोटीन, गुड फैट व विटामिन-डी अधिक मात्रा में पाया जाता है। दूसरे दूध के मुकाबले इसमें कैल्शियम अधिक पाया जाता है। ओमेगा-3 फैटी एसिड होने के कारण यह हार्ट और डायबिटीज पेशेंट्स के लिए खास फायदेमंद है। कई रिसर्च में भी सामने आया है कि यह मेटाबॉलिज्म दुरुस्त कर ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करता है।

सोया मिल्क : दूध से एलर्जी है तो इसे लें, इसमें अधिक प्रोटीन की मात्रा अधिक
ऐसे लोग जिन्हें दूध से एलर्जी है वे सोया मिल्क ले सकते हैं। हाई प्रोटीन होने के साथ इसमें कैल्शियम और आयरन भी अधिक मात्रा में होता है। इसमें नौ तरह अमीनो एसिड्स पाए जाते हैं जो इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाते हैं जिससे आपकी रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। इसे पीते समय ध्यान रखें कि शुगर अधिक न लें।

स्किम्ड मिल्क : बढ़ते कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर से परेशान हैं तो इसे डाइट में शामिल करें
बढ़ते ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल से परेशान से हैं तो स्किम्ड मिल्क बेहतर विकल्प है। खासकर 35 वर्ष की उम्र के बाद इसे लेना अच्छा है। इसमें फैट मात्र 0.3 फीसदी होता है इसलिए वजन को कम करना चाहते हैं तो इसे डाइट में शामिल कर सकत हैं। इसे दही या छाछ के रूप में भी लिया जा सकता है।

टोन्ड मिल्क : यह लो-फैट मिल्क हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा घटाता है
जिन्हें वजन नहीं घटाना है केवल फिट रहना है, वे डबल टोंड दूध पी सकते हैं। इसमें वसा की मात्रा काफी कम होती है। इसमें फैट की मात्रा कम होने के कारण हार्ट अटैक, स्ट्रोक का खतरा भी कम होता है। इसमें विटामिन-डी की मात्रा अधिक होती है इस कारण कैल्शियम आसानी से शरीर में एब्जॉर्ब हो जाता है।

कोकोनट मिल्क : इसमें पोषक तत्व अधिक मात्रा में पाए जाते हैं
इसकी न्यूट्रिशन वैल्यू काफी हाई है। इसमें फायबर की मात्रा अधिक होने के साथ विटामिन सी, ई, बी और आयरन, सोडियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस पाया जाता है। लैक्टोज-फ्री होने के कारण ऐसे लोग जिन्हें दूध से एलर्जी है वे इसे ले सकते हैं। लो-कोलेस्ट्रॉल होने के कारण यह हृदय रोगों से बचाता है।

6 फायदे : रोज दूध पिएं क्योंकि इसका असर पूरे शरीर पर पड़ता है

  • दांत-हडि्डयां मजबूत करता है।
  • वजन घटाने में मदद करता है।
  • रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाता है।
  • यह स्किन को चमकदार बनाता है।
  • कोलेस्ट्रॉल घटकार दिल दुरुस्त रखता है।
  • शरीर में पानी की कमी भी पूरी करता है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *