Coronavirus and Climate Change; How To Protect Yourself From COVID-19? All You Need To Know | सर्दी-जुकाम होने पर डॉक्टरी सलाह लें, सामान वहां से खरीदें जहां लोगों ने मास्क लगाया हो और पल्समीटर से रीडिंग चेक करें

  • Hindi News
  • Happylife
  • Coronavirus And Climate Change; How To Protect Yourself From COVID 19? All You Need To Know

4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • अगर पल्समीटर की रीडिंग 96 से कम है या 90 तक पहुंच रही है तो लक्षण पर ध्यान दें और डॉक्टर से संपर्क करें
  • मास्क लगाने में दिक्कत है तो इसे थोड़ा सा ढीला कर लें लेकिन चेहरे से हटाएं नहीं, रोज लगाएं ताकि ये आदत में शामिल हो जाए

त्योहारी सीजन शुरू होने वाला है, बाजार में भीड़ बढ़ेगी। लेकिन इस बार खरीदारी करते समय कई बातों का ध्यान रखना जरूरी है। सावधानी बरतने की दो वजह हैं। पहली, कोरोना के संक्रमण से बचाव। दूसरा, सर्दी के मौसम में दूसरे वायरस भी एक्टिव रहते हैं, इनसे भी अलर्ट रहें। बदलते मौसम में किन बातों का ध्यान रखें, बता रहे हैं सफदरजंग हॉस्पिटल, नई दिल्ली के डॉ. बलविंदर सिंह….

Q1 : बदलते मौसम में कोरोना में क्या बदलाव आ रहा है?
सांस के जरिए फैलने वाले वायरस का असर सर्दी के मौसम में अधिक होता है क्योंकि तापमान गिरने पर वायरस ज्यादा एक्टिव होते हैं। कोरोना वायरस भी सर्दी-जुकाम के जरिए होता है, इसलिए खतरा ज्यादा है।

Q2 : त्योहार का मौसम शुरु होने वाला है और बाजारों में भीड़ बढ़ रही है, क्या सावधानी बरतें?
अनलॉक में कोरोना से डरना नहीं, मुकाबला करना है। इसके लिए हर सावधानी बरतें। मास्क जरूर लगाएं, लेकिन ऐसा मास्क जो अच्छी क्वालिटी का ट्रिपल लेयर वाला हो। मास्क कहीं से ढीला न हो, नाक के ऊपर तक और गर्दन के नीचे पूरी तरह चेहरा कवर होना चाहिए। खाने का सामान वहीं से खरीदें, जहां सभी ने मास्क लगाया हो। अपने साथ पेपर सोप या हैंड सैनेटाइजर जरूर रखें। समय-समय पर हाथ साफ करते रहें।

Q3 : सैलून या ब्यूटी पार्लर जाने पर क्या सावधानी बरतें?
जब नाई की दुकान पर जाते हैं तो ध्यान दें कि उसने मास्क लगाया हो। हर एक व्‍यक्ति की कटिंग या शेविंग करने के बाद, औजार से लेकर हाथ और कुर्सी सैनेटाइज करे। बाल काटने वाला हो सके तो पीपीई किट पहने हो। बाकी ग्राहकों से दूरी बनाकर बैठें। वहीं, महिलाए फिलहाल ऐसे काम न करवाएं जिनमें मुंह काफी पास आता है, जैसे फेशियल, आईब्रो बनवाना।

Q4 : पल्स ऑक्सीमीटर को कैसे इस्तेमाल करते हैं?
ये एक स्‍प्र‍िंग की तरह होता है। इससे इंडेक्स फिंगर में लगाते हैं। अंदर एक छेद होता है उसके ऊपर नाखून वाला हिस्सा लगा रहना चाहिए। इसके बाद ऊपर नंबर दिखने शुरू होंगे। शुरूआत में बार-बार फ्लक्चुएट होगा, लेकिन करीब 30 सेकंड के बाद स्थिर हो जाएगा। अगर रीडिंग 96 आती है तो घबराने की जरूरत नहीं है। अगर 96 से कम है या 90 तक पहुंच रहा है तो लक्षण पर ध्यान दें और डॉक्टर से संपर्क करें।

Q5 : मास्क लगाने पर सांस लेने में दिक्कत होती है, ऐसे में क्या करें?
अगर सांस लेने में परेशानी हो रही है, तो भी मास्क हटाना नहीं है। बहुत दिक्कत है तो थोड़ा ढीला कर दें। अगर कोई नहीं है तो थोड़ी देर के लिए दो-तीन बार लंबी सांस लेने के बाद फिर लगा लें। ऐसा तभी करें जब आपके आस-पास कोई न हो। अगर मास्क रोज लगाएंगे तो धीरे-धीरे आदत बन जाएगी।

Q6 : सैनेटाइजर वाले हाथ से किसी खाद्य पदार्थ को खाने पर कितना सुरक्षित है?
जितने भी अच्छी क्वालिटी के सैनेटाइजर हैं, उनका काम है वायरस को नष्ट करना। इन सैनेटाइजर में 70 प्रतिशत तक अल्कोहल होता है, जो करीब 15 सेकंड में उड़ जाता है। अगर कहीं ऑफिस या बाहर हैं और पानी नहीं है तो साबुन से हाथ धोते रहिए। सैनेटाइजर बेझिझक प्रयोग करें और थोड़ी देर बाद आप उस हाथ से खा सकते हैं।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *