Those who are healthy make 28% more wealth; 5.5 crores below poverty line due to spending on Indian diseases | जो सेहतमंद हैं वो 28% अधिक संपत्ति बनाते हैं; 5.5 करोड़ भारतीय बीमारियों पर खर्च के कारण गरीबी रेखा के नीचे

  • Hindi News
  • National
  • Those Who Are Healthy Make 28% More Wealth; 5.5 Crores Below Poverty Line Due To Spending On Indian Diseases

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

3 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
16.4% सालाना की दर से बढ़ रहा है भारत में परिवारों का स्वास्थ्य खर्च। - Dainik Bhaskar

16.4% सालाना की दर से बढ़ रहा है भारत में परिवारों का स्वास्थ्य खर्च।

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार भारत में स्वास्थ्य सेवाओं पर होने वाले खर्च का 67.78% लोगों की जेब से जाता है।

अस्वस्थ लोग कम आय अर्जित करते हैं, उनकी बचत भी कम होती है और इसलिए वे स्वस्थ लोगों की तुलना में अपने जीवनकाल में कम संपत्ति अर्जित कर पाते हैं। स्वस्थ लाेग लगभग 28% अधिक संपत्ति बनाते हैं। एक अमेरिकी शोध के अनुसार जो लोग जीवन के 16 से 20 साल खराब स्वास्थ में बिताते हैं उन्हें लाखों रुपए का नुकसान आय में कमी और बीमारियों पर खर्च से होता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार भारत में स्वास्थ्य सेवाओं पर होने वाले खर्च का 67.78% लोगों की जेब से जाता है। इस मामले में वैश्विक औसत महज 18.2% है। बीमारियों पर होने वाला खर्च लोगों को गरीबी में धकेलता है। पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2017-18 में 5.5 करोड़ भारतीय बीमारियों और दवाओं पर खर्च के कारण गरीबी रेखा के नीचे चले गए।

सेहत का आपके पैसों पर इतना असर
16.4% सालाना की दर से बढ़ रहा है भारत में परिवारों का स्वास्थ्य खर्च। केअर रेटिंग के सर्वे के अनुसार। इधर गांवों में अस्पताल में भर्ती होने पर औसत खर्च 16,676 रु. है। शहरों में 27,000 रु. है।

इन समस्याओं को पहचानिए

  • बीमा कराइए क्योंकि 14% ग्रामीण व 19% शहरी लोगों के पास ही हेल्थ इंश्योरेंस है।
  • लाइफस्टाइल सुधारिए क्योंकि 63% मौतें देश में हर साल खराब लाइफस्टाइल से होने वाली बीमारियों के कारण होती हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *