banana benefits: गर्मियों में क्यों खाना चाहिए केला? करीना कपूर की डायटीशियन ने बताए इससे होने वाले फायदे – why you must have banana in summers revealed by kareena kapoor nutritionist rujuta diwekar

केला (Banana) एक मिरेकल फ्रूट है। यह इतना कमाल है कि यह अपने आप में एक कम्प्लीट मील है। हाल ही में, सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर की थी, जिसमें उन्होंने बताया था कि किस तरह गर्मी के दिनों में हम अपनी डेली डाइट में केले को शामिल कर सकते हैं। उन्होंने सलाह दी कि हमें इसे सुबह में सबसे पहले वर्कआउट के पहले और वर्कआउट के बाद मिनी मील के तौर पर खाना चाहिए, जब हमारी मेन मील में देरी हो जाती है। उन्होंने यह भी सलाह दी कि हमें केले को अपने मेन मील में शामिल कर लेना चाहिए, दूध के साथ, सब्जी के तौर पर (केले के फूल की सब्जी), भाकरी (केले के आटे से बनी) और भी अन्य कई रूपों में। इन गर्मियों में हम किस तरह से केले का प्रभावी तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं, इसके बारे में हम अपने यहां के विभिन्न राज्यों की दादी- नानी की ज्ञान का सहारा लेते हैं। यहां 5 तरीके से केले को गर्मी के दिनों में अपनी डाइट में शामिल करने के बारे में बताया जा रहा है। (फोटो साभार: इंडियाटाइम्स)

दिन की शुरुआत केले के साथ

अपने दिन की शुरुआत करने के लिए केला एक लो- एसिड और आइडियल फल है। यह एसिडीटी, माइग्रेन से हमारी सुरक्षा करता है। यहां तक कि पैरों में होने वाले दर्द से भी बचाता है।

मिड मील के तौर पर केला

हाइपोथायरायडिज्म बॉडी की एक कंडीशन है, जब बॉडी पर्याप्त थायराइड हॉर्मोन नहीं बनाती है। और यह प्रूव हो चुका है कि केले एनर्जी के समृद्ध स्रोत के तौर पर एनर्जी स्लम्प को रोकता है, जो हाइपोथायरायडिज्म के साथ आता है। यह मूड को भी तुरंत ठीक करता है जिसकी वजह से इसे मिड मील के तौर पर लेना चाहिए। इससे बॉडी में एनर्जी बनी रहती है।

दूध, चीनी और रोटी के साथ केला

रुजुता के अनुसार, दूध, चीनी और रोटी के साथ केले का कॉम्बिनेशन एक परंपरागत मील है। माना जाता है कि यह सिर दर्द और माइग्रेन में राहत प्रदान करता है। यह बच्चों के मील के लिए भी अच्छा है क्योंकि यह तुरंत डाइजेस्ट हो जाता है।

Kareena की डायटीशियन ने बताया लोहे की कड़ाही में खाना पकाने का फायदा

मील की समाप्ति केले के साथ

केले में फाइबर खूब होता है, जो कब्ज से छुटकारा दिलाता है। साथ ही केले में फ्रुक्टोज़ का निम्न स्तर होता है, जो बोवेल सिंड्रोम को कंट्रोल करने में मदद करता है।

रुजुता दिवेकर ने बताए गर्मियों में केला खाने के फायदे

मिल्क शेक के तौर पर केला

रुजुता के अनुसार, यदि आप उन लोगों में से हैं, जो पूरे दिन छोटे- छोटे मील्स लेते हैं तो आपको बनाना मिल्क शेक को अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। वह कहती हैं, यह देर रात पढ़ाई करने के दौरान, ऑनलाइन क्लासेज के बीच वर्क आउट के बाद के लिए एक बढ़िया मील है।

हाई ब्लड प्रेशर के मरीज पिएं ये शेक, कभी नहीं होगी ये समस्या

और क्या

केले के इतने फायदे हैं, जितने आप सोच नहीं सकते। इस सबसे बड़ी बात यह है कि इसे डाइजेस्ट करना बहुत आसान है। यही कारण है कि रुजुता जोर देकर कहती हैं, “केला जरूर खाना”। साथ ही केले को खरीदते समय लोकल केले के बारे में जरूर पूछिए और वही खरीदिये। अमूमन यह एडल्टरेशन से फ्री रहता है। साथ ही, स्थानीय उत्पादकों को मदद मिलती है ताकि स्थानीय चीजें कहीं गुम न हो जाएं।

इंग्लिश में इस स्टोरी को पढ़ने के लिएयहां क्लिक करें

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *